याददाशत और एकाग्रता बढाने के लिए करे ये योग आसन

क्या आपकी याददाशत कमजोर है? क्या आप बार बार भूलने की आदत से परेशान है ? तो आज हम आपको ऐसी योग मुद्राएँ बताने जा रहे है जिन्हें आप आसानी से घर पर बैठकर अभ्यास कर सकते हैं। और अपनी याददाशत को बढा सकते है 

Yoga asanas to improve memory and concentration
योगासन

एकाग्रता और याददाशत बढ़ाने के विभिन्न प्राकृतिक तरीके हैं। लेकिन योग ही सबसे अच्छा और सरल तरीका है।

एकाग्रता और याददाश्त के लिए योग में शीर्ष 10 आसन की निम्नलिखित सूची है। अगर आप रोजाना इनका निरदेशनुसार अभ्यास करे तो आप काफ़ी हद तक याददाश्त को बढ़ा सकते है।

यह भी पढ़ेकद बढाने के लिए कौन से योगासन करे

yoga asanas to improve memory and concentration :

याददाशत बढाने के लिए योग आसन :

पश्चिमोत्तासन

जैसा कि आप तस्वीर में देख सकते है पश्चिमोत्तानासन करने के लिए पैर और हाथ सीधे आगे की तरफ फैला कर खुद को सामने की ओर ऐसे झुकाएं कि माथा पैरों को छुए पैर और हाथ फर्श को। आराम करें।

Paschimottasana yoga poses for memory and concentration
पश्चिमोत्तासन

लाभ :

  • स्मरण शक्ति बढती है.
  • यह योग मुद्रा तनाव को भी दुर करने मे भी असरदार है ।
  • इस आसन को करने से तनाव, थकावट भी दूर हो जाती है
  • मोटापा घटाने में भी ये आसन फायदा करता है
  • इससे चेहरे पर तेज आ जाता है और बुढ़ापे को आने से रोकता है।
  • यह आसन भूख को भी बढाता है व सिर, आँखों का दर्द भी दूर होता है.

पद्मासन

यह आराम करने के लिए, मन को शांत और अपनी स्मृति कौशल को बढ़ाने के लिए सबसे अच्छा आसन है। इस आसन को करने के लिये आप पैरों को सामने की ओर सीधा फैलाकर बैठ जाए। पहले एक पैर को घुटने से मोड़कर पंजे को दुसरे पैर की जांघ पर रखे।  फिर दुसरे पैर को घुटनों से मोड़कर पहले पैर की जांघ पर रखे। अपने घुटनों पर अपने हाथ रखें। अपनी आँखें बंद करो और ध्यान केंद्रित करे। आराम करें।

Padmasana yoga asanas ke fayde
पद्मासन

लाभ :

  • यह आसन एकाग्रता को भी बढाता है।
  • इस आसन को करने से रीढ़ की हड्डी सीधी हो जाती है।
  • यह आसन मोटापा बढने से भी रोकता है।

पादहस्तासन

इस मुद्रा को hands-to-feet मुद्रा भी के रूप में भी जाना जाता है।

एक सीधी स्थिति में फर्श पर खड़े हो जाओ।

padahastasana yoga asanas to improve memory and concentration
पादहस्तासन

साँस छोड़ो और कुल्हो से नीचे की ओर मोड़ कर अपने पैर की उंगलियों को स्पर्श करो.

अपने हाथों से पैर की उंगलियों पकड़ो और स्थिर बने हुए इस मुद्रा में आराम करें.।

लाभ :

  • इस आसन से कमर पतली और छाती चौड़ी होती है।
  • इस आसन से हाइट बढती है।
  • कन्धे से सम्बन्धित रोग दूर हो जाते हैं।
  • मोटापा भी दूर होता है।

सर्वांगासन 

सर्वांगासन एक उन्नत योग मुद्रा है और शुरुआत में इस मुद्रा का अभ्यास नही करना चाहिए.

sarvangasana yoga asanas to improve memory and concentration
सर्वांगासन

अपनी पीठ के बल फर्श पर लेट जाओ.

कुछ झटको के साथ ऊपर की दिशा में पैरो को उठाने का प्रयास करे।

हाथो की सहायता से अपनी पीठ को आराम दे जिससे आप इस स्थिति में बने रहे.

अब अपनी टांगो को ऊपर उठाये जब तक वो फर्श से सीधी ना हो।

आप अपनी सिर और कंधे को तकिये की सहायता से आराम भी दे सकते है जिससे इस गतिविधि को पूरा करना सहज हो जाता है ।

लाभ :

  • मस्तिषक में खून का संचार होता है जिससे दिमाग तेज होता है।
  • यह आसन वजन कम करने में उपयोगी है।
  • थकान दूर होती है।
  • पीठ और कंधे मजबूत होते है।
  • दमा पीडितो के लिए भी ये आसन फायदेमंद है।

हलासन

halasana yoga asanas benefits
हलासन

यह एक उन्नत योग मुद्रा और शुरुआती में इसका अभ्यास नहीं किया जाना चाहिए है।

इसको करने के लिए फर्श पर लेट जाओ।

अब ऊपर की दिशा में पैरो को उठाये और ध्यान रखे कि आपकी टांगे बिल्कुल सीधी हो.

अब अपनी टांगो को पीछे की और ले जाये ताकि आपके पैर जमीन को छूए जैसा की तस्वीर में दिखाया गया है।

अपनी स्थिति को समर्थन करने के लिए हाथो की सहायता से अपनी पीठ को आराम दे सकते है। आराम करें।

लाभ :

  • इस आसन से स्मरण शक्ति व एकाग्रता बढती है।
  • इस आसन से कमर व तोंद की चर्बी कम होती है।
  • इससे पाचन शक्ति बढती है।
  • यह आसन मधुमेह रोगियो के लिए फायदेमंद है।
  • इस आसन से शरीर में मजबूती आती है।

वृक्षासन 

सीधे स्थिति में फर्श पर खड़े हो जाओ।

tree stand yoga poses to improve memory and concentration
वृक्षासन

अब अपनी बायीं टांग को घुटने से मोड़ो और पैर को दायी टांग की जांघ पर रखो

ध्यान रखे : 

बाये पैर को फ्लैट रखे और मजबूती से जांघ की जड़ के पास जाए।

जब आप अच्छी तरह से संतुलित महसूस करे तब गहरी सांस लेकर धीरे धीरे अपने दोनों हाथ उठा कर ऊपर की और नमस्ते की मुद्रा में ले जाए।

किसी भी दूर की वस्तु पर सीधे अपने सामने देखो। एक स्थिर टकटकी एक स्थिर संतुलन बनाए रखने में मदद करता है।

सुनिश्चित करें कि आपकी रीढ़ की हड्डी सीधी है और पूरा शरीर इलास्टिक बैंड की तरह तना हुआ होना चाहिए।

लंबी गहरी साँस लेते रहे। हर साँस छोड़ने के साथ शरीर को अधिक से अधिक आराम मिलेगा।

अब इसी गतिविधि को दायी टांग के साथ अभ्यास करे.

लाभ :

  • इस आसन से पैरों की स्थिरता और मजबूती का विकास होता है।
  • यह आसन मोटापा बढने से रोकता है।
  • इस सबके कारण इससे मन का संतुलन बढ़ता है।
  • आत्मविश्वास और एकाग्रता का विकास होता है।
  • इसे रोजाना करने से शरीर और मन में सदा स्फूर्ति बनी रहती है।

सुखासन

यह आपके मन, शरीर और आत्मा को आराम करने के लिए सबसे अच्छा आसन है।

इस आसन को करने के लिए पलाथी लगाकर बैठें. दोनों पैरों को एक दूसरे को एक दूसरे के ऊपर लाएं. पैरों को खींचकर अपने नीचे लाएं. दोनों हाथो को घुटनों पर रखें और हथेलियों को ऊपर की ओर.

sukhasana yoga to improve memory and concentration
सुखासन

अब कंधों को आरामदायक स्थिति में झुकाएं और कोहनियों को थोड़ा पीछे रखें एवं छाती को  ऊपर की ओर तानकर फैलाएं.

शरीर के  ऊपरी हिस्से को तानकर रखें एवं हिप्स को नीचे की ओर हल्का दबाएं.

ध्यान रखे :

योग करते समय सिर और रीढ़ ही हड्डी सीधी रखे. 

इस योग के दौरान नाक से सांस लेना और छोड़ना चाहिए. 

अभ्यास के दौरान लम्बे समय तक इस मुद्रा में बने रहना चाहिए इससे आपको अधिक मानसिक शांति मिलती है.

लाभ :

  • रीढ़ की हड्डी मजबूत बनती है।
  • इस आसन से पैरों का रक्त-संचार कम हो जाता है और अतिरिक्त रक्त अन्य अंगों की ओर संचारित होने लगता है जिससे उनमें क्रियाशीलता बढ़ती है।
  • यह तनाव हटाकर चित्त को एकाग्र कर सकारात्मक ऊर्जा को बढ़ाता है।
  • छाती और पैर मजबूत बनते हैं।
  • वीर्य रक्षा में भी मदद मिलती है

 

2 thoughts on “याददाशत और एकाग्रता बढाने के लिए करे ये योग आसन

  • September 22, 2016 at 1:38 am
    Permalink

    पढकर बहुत अच्छा लगा,आपका बहुत-बहुत धन्यवाद…

    Reply
    • September 22, 2016 at 2:53 am
      Permalink

      विजय मौर्य जी,पढने के लिए धन्यवाद, ऐसी टिप्पणिया ही हमारा साहस बढाती है 🙂

      Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *