Health benefits of curd in hindi – दही खाने के 12 फायदे हिंदी में

Benefits of curd (dahi) in hindi for health – दही खाने के 12 फायदे हिंदी में : आपने ये सुना होगा कि किसी भी शुभ काम को करने से पहले दही / curd खाना चाहिए। इससे काम में सफलता मिलती है। जब आप छोटे थे स्कूल के परीक्षा पेपर के लिए जाने से पहले मां दही में चीनी डालकर खिलाती थी। ताकि परीक्षा में सफलता मिले दही खाना स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद है। दही में पाए जाने वाले रासायनिक पदार्थ अनेक प्रकार की बीमारियों को दूर करते है। दही या उससे बनी छाछ , लस्सी पीने से आंतो की गर्मी दूर होती है। जिस इंसान को पेट से जुडी परेशानिया जैसे कि कब्ज, अपच और गैस की शिकायत होती है। उनके लिए दही खाना जरूरी है।

Health benefits of curd in hindi - दही के फायदे हिंदी में
Health benefits of curd in hindi – दही के फायदे हिंदी में

जो लोग नियमित रूप से दही खाते है। उनका पाचन तंत्र भट मजबूत होता है। भूख भी खुलकर लगती है। दही का प्रयोग खाने में पिछले हजारो साल से होता आ रहा है। दही में प्रोटीन,  कैल्शियम , राईबोफ्लेविन , विटामिन बी जैसे अनेक पोषक तत्व पाए जाते है। दूध की अपेक्षा में कैल्शियम की मात्र दही में 18 गुणा ज्यादा होती है जो दांतों आर हड्डीयों को मजबूत बनाने में सहायक है।

आईये आपको दही से होने कुछ फायदों के बारे में समझाते है।

दही खाने के फायदे हिंदी में – Health benefits of curd in hindi

पाचन तंत्र मजबूत करे –

दही का रोजाना सेवन करने से पाचन तंत्र मजबूत होता है। इससे शरीर में से खून की कमी दूर होती है। और कमजोरी नही आती दूध जब दही में प्रवर्तित होता है। तब उसकी शर्करा अम्ल में बदल जाती है जिससे पाचन शक्ति बढाने में मदद मिलती है जिन लोगो को भूख नही लगती या कम लगती है उनके लिए दही फायदेमंद है।

पेट की गर्मी दूर करे

दही की छाछ या लस्सी बनाकर पिए इससे पेट की गर्मी से राहत मिलेगी। पेट में अगर गड़बड़ है तो दही के साथ ईसबगोल की भूसी लेने या चावल में दही मिलाकर खाने से दस्त बंद हो जाते हैं। पेट के अन्य रोगों में दही को सेंधा नमक के साथ लेना फायदेमंद होता है।

आंतो से जुडी बीमारी दूर करे

अमेरिकी आहार विशेषज्ञों के अनुसार दही का नियमित सेवन करने से आंतों के रोग और पेट संबंधित बीमारियां नहीं होती हैं।

उच्च रक्तचाप (Blood Pressure) –

दही में दिल के रोग, हाई ब्लड प्रेशर और गुर्दों की बीमारियों को रोकने की गजब की क्षमता है। यह कोलेस्ट्रॉल को बढ़ने से रोकता है और दिल की धड़कन सही बनाए रखता है।

हड्डियों की मजबूती

दही में कैल्शियम की मात्रा ज्यादा होने से यह हड्डियों के विकास में सहायक होता है। साथ ही, दांतों और नाखूनों को भी मजबूत बनाता है। इससे मांसपेशियों के सही ढंग से काम करने में मदद मिलती है।

जोड़ों के दर्द

हींग का छौंक लगाकर दही खाने से जोड़ों के दर्द में लाभ मिलता है। यह स्वादिष्ट होने के साथ-साथ पौष्टिक भी है।

यह भी पढ़े – शरीर की चर्बी (मोटापा) घटाने के आसान तरीके – खान पान में करे सुधार

वजन बढाने में सहायक

वेसे तो लोग वजन बढने से बहुत परेशान रहते है लेकिन कुछ लोग जो दुबले पतले होते है ऐसे व्यक्तियों के लिए दही में किशमिश, बादाम या छुहारा मिलाकर खाने से वजन बढ़ने लगता है, जबकि दही के सेवन से शरीर की फालतू चर्बी को भी हटाया जा सकता है।

मुहं के छालो की लिए

मुहं में छाले हुए हो तो तेज जलन व् दर्द होने लगता है। और खाना तो दूर पानी तक पीना बहुत मुश्किल हो जाता है। दही की मलाई को मुंह के छालों पर दिन में दो-तीन बार लगाने से छाले दूर हो जाते हैं। दही और शहद को समान मात्रा में मिलाकर सुबह-शाम सेवन करने से भी मुंह के छाले दूर हो जाते हैं।

हेयर पैक

दही / curd बालो के लिए एक प्राक्रतिक कंडीशनर का काम करती है जिसकी बालो में चमक आती है। और डैन्ड्रफ की समस्या दूर होती है। आप दही को विभिन्न मसालों जैसे मेथी पाउडर, काली मिर्च, नींबू के रस, बेसन, अंडे और हेना (henna) के साथ मिश्रित करके पैक भी बना सकते हैं। दही खुद में मौजूद प्राकृतिक तत्वों की मदद से बालों को पोषण प्रदान करता है, जिससे आपके बाल स्वस्थ और घने बनते हैं।

त्वचा की सुन्दरता के लिए

दही लगाकर नहाने से त्वचा कोमल और सुंदर बन जाती है। इसमें नीम्बू का रस मिलाकर चेहरे, गर्दन, कोहनी, एडी और हाथो पर लगाने से शरीर में निखार आ जाता है। दही की लस्सी में शहद मिलाकर पीने से सुन्दरता बढने लगती है।

पसीने की दुर्गन्ध

दही में बेसन मिलाकर मिश्रण बना ले। और मालिश करे कुछ देर तक रखने के बाद नहा ले इससे पसीने की दुर्गन्ध दूर हो जायेगी।

बवासीर

बवासीर रोग से पीड़ित रोगियों को दोपहर के भोजन के बाद एक गिलास छाछ में अजवायन डालकर पीने से फायदा मिलता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *